मयखाने के समय में बदलाव, कलेक्टर को सौंपी जवाबदारी 

0
24

रायपुर। राज्य सरकार ने शराबबंदी के प्रयासों के साथ शराब दुकान खोलने और बंद करने का समय बढ़ाने का पैâसला लिया है। इसका अधिकार जिले के कलेक्टरों को सौंपा गया है। जिससे कई दफा लॉ एंड आर्डर की स्थिति आ जाती है। शराब दुकानों की टाइमिंग में छूट के बाद जिले भर की १६ दुकानों के समय में बदलाव किये जाने की संभावना है। इन दुकानों पर आये दिन लगने वाली ग्राहकों की भीड़ से ट्रैफिक जाम तो लगता ही है, आबकारी विभाग ऐसी दुकानों को चिन्हित करने में जुट गया है, जहां मेन रोड पर शराब दुकान हैं और शराब खरीदने के लिए लंबी कतारें लगती हैं। हालांकि, दुकानों के समय बदलने में सप्ताह भर से अधिक समय लगने की संभावना है। अफसरों ने बताया कि सर्वाधिक भीड़ शहर की दुकानों पर ही लगती है। इसलिए पहले यहां का प्रस्ताव कलेक्टर को भेजा जायेगा। उसके बाद अन्य दुकानों पर भीड़ का सर्वे किया जायेगा। वहीं दुकानों की टाइमिंग के नये नियम से सेल्समन और सुपरवाइजर की दिक्कतें बढ़ गई हैं। शराब बदुकानों पर एक बार फिर शराब और बीयर ब्रांड की दिक्कत शुरु हो गई है। जिले की ३९ अंग्रेजी शराब दुकान पर गोवा, मैकडावल नम्बर वन, किंगफिशर बीयर की कमी हो गई है। मनपसंद बीयर नहीं मिलने पर सेल्समैन और ग्राहकों के बीच विवाद की स्थिति बन रही है। हालांकि तर्क है कि सोमवार और मंगलवार को सप्ताह भर के लिए वेबरेज कार्पोरेशन से शराब और बीयर का उठाव होता है। ऐसे में शनिवार और रविवार को स्टॉक में कमी आ जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here