घर में खुशहाली इस प्रकार आयेगी

0
30

घर में खुशहाली सभी चाहते हैं पर इसके लिए कई बातों का ध्यान रखना जरुरी है। यहां तक की घर का दरवाजा भी वास्तु के अनुसार सही होना चाहिये। अक्सर देखा जाता है कि सुख-समृद्धि के लिए परेशान लोगों को वास्तु के कुछ तरीके अपनाने से लाभ होता है। इसलिए घर बनाते समय इन बातों का ध्यान रखें।
दरवाजे से ना आए आवाज
दरवाजा होता है सकारात्मक ऊर्जा का केंद्र बिंदु इसलिए दरवाजा खोलते/बंद करते समय नहीं आनी चाहिए आवाज। यह अशुभ माना जाता है।
झुका ना हो दरवाजा
अगर घर का दरवाजा अंदर को झुका हो तो घर में परेशानी बनी होती है जबकि बाहर की ओर झुका होने पर घर का मालिक अक्सर बाहर ही रहता है। इसलिए दरवाजे को हमेशा रखें संतुलित।
उल्टा ना खुले दरवाजा
घर का मुख्य दरवाजा हमेशा अंदर की ओर खुलना चाहिए, बाहर की ओर दरवाजा खुलने से रोग और खर्च बढ़ते हैं।
रगड़ ना खाए दरवाजा
घर के मुख्य दरवाजे को खोलते समय रगड़ नहीं खाना चाहिए। दरवाजे के रगड़ खाने से आर्थिक दिक्कतें आती हैं और पैसा कमाने के लिए भी हद से ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है।
घर के बीचोबीच ना हो मुख्य दरवाजा
घर का मुख्य दरवाजा हमेशा किसी एक तरफ को होना चाहिए। दरवाजा बीचोबीच होने से घर में विवाद, शोक और हानि होते हैं। साथ ही साथ महिलाओं को काफी कष्ट का सामना करना पड़ता है।अगर आपके घर का दरवाजा अपने आप खुलता है तो आपको मानसिक परेशानी और मतिभ्रम पैदा होता है और अपने आप बंद होता है तो कुल का नाश हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here