पद्मावती विवाद में संसदीय समिति ने पंद्रह दिनों में मांगी रिपोर्ट

0
24

                      योगी बोले उपद्रवी दोषी, पर संजय लीला भंसाली भी कम दोषी नहीं
                     आजम ने कहा सम्मान की बात करते हैं अंग्रेजों को सलामी बजाने वाले
नई दिल्ली। फिल्म पद्मावती पर हो रहे विवाद के मद्देनजर संसदीय समिति के अध्यक्ष भगत सिंह कोशियारी ने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से 15 दिन में रिपोर्ट मांगी है। पद्मावती फिल्म के खिलाफ किए जा रहे विरोध के चलते फिल्म का प्रदर्शन फिलहाल टल गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भंसाली के खिलाफ कड़ी प्रतिक्रिया करते हुए कहा उन्हें लोगों की भावनाओं से खिलवाड़ करने की आदत हो गई है। इस विवाद में जहां उपद्रवी दोषी हैं, वहीं संजय लीला भंसाली भी कम दोषी नहीं हैं। वहीं वरिष्ठ समाजवादी पार्टी नेता आजम खान ने कहा ब्रिटिश हुकूमत के दौर में अंग्रेज अफसरों के बस्ते उठाने वाले और सलामी बजाने वाले लोग सम्मान की बात करते हैं।
योगी आदित्यनाथ ने कहा जितनी गलती प्रदर्शनकारियों की है, उतनी ही गलती संजय लीला भंसाली की भी है। प्रदर्शनकारियों के साथ फिल्म निर्माताओं के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए। इस बीच पद्मावती पर चल रहे विरोध के बीच अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने खुद को वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन (जीईएस) से अलग कर लिया है। 28 नवंबर से शुरू होने वाले इस सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका भी शामिल होंगे। तेलंगाना सरकार के एक उच्च अधिकारी ने बताया कि दीपिका ने इवेंट में आने से मना कर दिया है।
दीपिका 29 नवंबर को यहां एक सेशन हालीवुड टू नालीवुड : द पाथ टू मूवी मेकिंग को संबोधित करने वाली थीं। पद्मावती को लेकर दीपिका को मिल रही धमकियों पर कमल हासन ने विरोधियों पर चुटकी ली है। कमल ने कहा मैं चाहता हूं कि दीपिका का सिर सलामत रहे। उधर, समाजवादी पार्टी नेता आजम खान ने पद्मावती फिल्म का विरोध करने वालों पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा अंग्रेजी हुकूमत में उनके बस्ते उठाने वाले और सलामी बजाने वाले सम्मान की बात कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here