सतनामी समाज संत श्री गुरूघासीदास की जयंती मनाने की तैयारियां कर रहा जोर शोर से

0
10

             शोभा यात्रा का मार्ग परिवर्तित हुआ, 13 से मुख्य कार्यक्रम होंगे प्रारंभ
रायपुर। प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी छग सतनामी समाज द्वारा संत श्री गुरू घासीदास बाबा की 262वीं जयंती मनाये जाने की तैयारियां जोर शोर से प्रारंभ हो गई है। सतनामी समाज के प्रमुख साहित्यकार एवं विचारक डा. जे.आर. सोनी, केपी कं डे, एस आर धृतलहरे, चेतन चंदेल एवं ए आर गजभिये ने जानकारी देते हुये बताया कि सतनामी समाज द्वारा बाबा घासीदास की जयंती मनाये जाने की तैयारियां जोर शोर से प्रारंभ हो गई है। इस वर्ष शोभा यात्रा का मार्ग भी बदला गया है। शोभा यात्रा आमापारा से निकलकर कंकाली पारा पुरानी बस्ती बूढेश्वर मंदिर बूढ़ापारा महिला थाना चौक मोतीबाग होते हुये घड़ी चौक गुरूघासीदास चौक पर समाप्त होगी। मुख्य आयोजन 13 दिसंबर से आरंभ होंगे। इस अवसर पर 13 दिंसबर को खम्राडीह से बाइक रैली सुबह 11 बजे युवा सदस्यों द्वारा निकाली जाएगी। 16 दिसंबर को आमापारा में दोपहर 2 बजे समाज के संतों के नेतृत्व में आकर्षक झांकियों से युक्त शोभायात्रा निकाली जाएगी। 17 दिसंबर को न्यू राजेंद्र नगर स्थित गुरू घासीदास सांस्कृतिक भवन समाज की महिलाओं एवं युवतियों द्वारा आकर्षक नृत्य नाटक एवं संगीत एवं भजनों के जरिये उपस्थितजनों का मनोरंजन किया जाएगा। इस अवसर पर समाज की बच्चियों द्वारा आकर्षक रंगोली प्रतियोगिता , पेटिंग प्रतियोगिता एवं सलाद सजाओ प्रतियोगिता आयोजन भी किया गया है। 18 दिसंबर को मुख्य कार्यक्रम बाबा घासीदास के जैतखंभ में नये ध्वज का ध्वजारोहण तेलीबांधा श्याम नगर सडडू राजेंद्र नगर सहित शहर के सभी जैतखंभों में सुबह किया जाएगा। 18 दिसंबर को ही पंथी नृत्य संगोष्ठी आदि का आयोजन भी किया गया है। सतनामी समाज की गुरूघासीदास जयंती समिति की बैठक में सुंदरलाल लहरे पीआर खंूटे डा. शिव डहरिया सुंदर लाल जोगी उदित भारद्वाज डा. करूणा कुर्रे सहित समाज के गणमान्य नेता उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here